m

m
सूर्योदय

Monday, March 20, 2017

ध्यान रहे

ध्यान रहे
कि दीप
उनकी भी ड्यौढ़ी-सजें...
जिनकी ड्यौढ़ियाँ
साज भूल गयीं हैं।
व्यस्त और पस्त हैं
इस कदर हालात से
कि उसी दिवस
अपना आज भूल गयीं हैं।

No comments: