m

m
सूर्योदय

Sunday, June 22, 2014

निशा...

निशा सजाये थाल खड़ी है
हीरा, मोती, मणियोँ को।
सोम सोमरस बाँट रहा है
कली और पँखुड़ियो को ।।

No comments: